जब आप निर्णय ले लेते हैं कि आप बाइनरी ऑप्शंस ट्रेडिंग करना चाहते हैं या फिर फोरेक्स ट्रेडिंग, आपको जल्द ही यह अहसास हो जाएगा कि ट्रेडिंग के ज़रिए पैसे कमाने का सबसे अच्छा तरीका अच्छी तरह सोची समझी कार्यनीति अपनाना है | एक योजना बनाने से आप गहरे से सोच पाते हैं कि आप क्या रास्ता अपनाना चाहते हैं, कौन सी पद्यति अपनाना चाहते हैं और आप मुनाफे में तेजी से वृद्धि चाहते हैं या फिर एक सतत वृद्धि चाहते हैं| बिना किसी कार्यनीति या योजना के, इस बात में कोई शक नहीं कि आप अपने सारे पैसे गवां देंगे और शायद निर्धन हो जाएँगे| ट्रेडिंग करने और जुआ खेलने में फर्क है क्योंकि इसमें एक रणनीति की ज़रूरत होती है कि भाग्य की क्योंकि यहाँ पैसे बनाने के लिए एक सोची –समझी सही योजना की ज़रूरत होती है|

हमारी गाइड्स और लेखों में इस बात को ध्यान में रखकर, हमने ऐसी कई गाइड्स लिखी हैं जो आपको जोर देकर बतायेंगी कि बाइनरी ऑप्शंस में ट्रेड लगाने के लिए कार्यनीति कैसे बनानी है| किसी कार्यनीति के प्रयोग के बारे में कई सामान्य प्रश्नों के उत्तर दिए जायेंगे और यहाँ तक कि ये प्रक्रियाएं बाइनरी ऑप्शंस ट्रेडिंग पर किस तरह लागू होती हैं इसका भी समग्र विवरण दिया जाएगा|
यहाँ जो कुछ कार्यनीतियाँ आप सीखेंगे उनमें हेजिंग कार्यनीति, बाइनरी ऑप्शंस टिप्स, प्राइस एक्शन बाइनरी कार्यनीति, फोरेक्स ट्रेडिंग कार्यनीति, बाइनरी ऑप्शंस आधारभूत बातेब, बाइनरी ऑप्शंस स्ट्रैडल कार्यनीतियाँ और अन्य कई कार्यनीतियाँ है जो कि नए और अनुभवी दोनों ही तरह के ट्रेडरों के लिए मददगार होंगी|
इन गाइड्स का अनुसरण करके, आप आश्वस्त हो सकते हैं कि आप आत्मविश्वास के साथ ट्रेड करना सीख लेंगे और नियमित रूप से मुनाफ़ा कमाए जिससे ट्रेडर के तौर पर आपका आत्मविश्वास भी बढेगा| गाइड्स और लेखों को पढ़ने के बाद, अगर आप चाहें तो तुरंत ट्रेड करना शुरू कर पाएंगे क्योंकि आपको ट्रेड लगाने के लिए सभी ज़रूरी बातें पता होंगी क्यूंकि कार्यनीतियों में हर आवश्यक बात बताई जाती है|
तो विशेषज्ञ ट्रेडर बनने के लिए ज़रूरी गाइड्स यहाँ दी गई हैं:

बाइनरी ऑप्शंस स्ट्रैडल कार्यनीति

अक्सर आप न केवल बाइनरी ऑप्शंस ट्रेडिंग के कई प्रकारों के बीच बल्कि बहुत साडी कार्यनीतियों के बीच भी दुविधा में पड़ जायेंगे जिन्हें आप ब्रोकर प्लेटफार्म पर लॉग इन करने के बाद अपने लाइव खाते के साथ जोड़ सकते हैं| इस बात को ध्यान में रखकर हम बाइनरी ऑप्शंस स्ट्रैडल कार्यनीति का परीक्षण करेंगे क्योंकि ये आपके लिए सबसे बेहतर ट्रेड साबित हो सकती हैं|

सर्वप्रथम: स्ट्रैडल का मुख्य लक्ष्य नुकसान को नियंत्रित करना है| यह एक विशेष युक्ति हैं, और केवल उच्च परिवर्तनशील बाज़ार परिस्थितियों के लिए उपयुक्त है| इस गाइड में, हम देखेंगे कि यह कार्यनीति क्या है और यह आपकी सहायता कैसे कर सकती है

READ  बाइनरी ऑप्शन्स Straddle कार्यनीति

“लैडर” ट्रेंड कार्यनीति– Olymp trade

बाइनरी ऑप्शंस में ट्रेड का सबसे अच्छा निष्पादन मज़बूत ट्रेडिंग कार्यनीतियों का प्रयोग करके ही किया जा सकता है| उन ट्रेडरों कि तरह न बने जो केवल पोकर मशीन की तरह हाई और लो बटन दबाते रहते हैं| अगर आप प्रभावी रूप से ट्रेडिंग करना चाहते हैं, तो आपको अच्छी तरह सोची समझी कार्यनीति अपनानी चाहिए| Olymp Trade ट्रेडरों को कुछ सुझाव देता है जो हम आपको इस गाइड के Olymp Trade कार्यनीति श्रंखला पर लेख में समझायेंगे|
कई ट्रेडर बाइनरी ऑप्शंस में ट्रेडिंग करने के पक्ष में रहते हैं क्योंकि इसके ज़रिए वे मोनिटर के सामने बिताये जाने वाले समय को बचा सकते हैं| यह ट्रेडिंग कार्यनीति छोटे समयांतरालों के साथ मुनाफे वाली ट्रेड लगाने के लिए परफेक्ट है| इस युक्ति को लैडर ट्रेंड कार्यनीति कहते हैं, और हम अपनी मार्गदर्शिका में इसके बारे में चर्चा करेंगे|

READ  "Ladder" ट्रेंड कार्यनीति - Olymp trade
Binary Options हेजिंग कार्यनीति

बाइनरी ऑप्शन्स हेजिं कार्यनीति एक और बिनरी ट्रेडिंग की युक्ति है जो ट्रेडरों को उलटी दिशा में एक और कॉल या पुट विकल्प खरीदकर अपनी आय बढाने या अपने नुकसान को कम करने के विकल्पों में से एक चुनने का अवसर देकर उन्हें मध्यम स्तर का लेकिन सुरक्षित मुनाफ़ा कमाने का मौका देती है| इस धन प्रबंधन पद्यति में, घाटे की दर काफी हद तक कम हो जाती है|
यह कार्यनीति ट्रेडरों के बीच प्रचलित है, और वे नियमित रूप से मुनाफ़ा कमाने के लिए इस कार्यनीति को अपना रहे हैं| शुरुआती दौर में इसका प्रयोग फोरेक्स ट्रेडिंग क लिए किया जाता था और कुछ फोरेक्स ट्रेडर बिनरी ऑप्शन्स का प्रयोग करके भी अपनी स्थिति को सुरक्षित करते हैं|

READ  बाइनरी ऑप्शन्स Hedging कार्यनीति
दि प्राइस एक्शन बाइनरी ऑप्शन्स कार्यनीति

जब आप बाइनरी ऑप्शन्स में ट्रेड कर रहे हों तो फायदेमंद होगा कि आपको निश्चित रूप से पता हो कि नै ट्रेड लगाने और उससे बाहर निकालने के लिए सही परिस्थिति का चयन कैसे करना है|
प्राइस एक्शन का प्रयोग करके और इसके सम्पूर्ण मार्गका अनुसरण करके ट्रेडरों अधिकांशत: मुनाफ़ा कमाने में मदद मिलती है वो भी चीजों को निष्कपट और स्पष्ट रखते हुए|
यहाँ तक कि कुछ बहुत ही अच्छे प्रोफेशनल ट्रेडर अपनी ट्रेडिंग को इतना अधिक सीमा तक जटिल बना लेते हैं कि जैम हो चुके चार्ट्स के कारण वे बड़ी ट्रेड लगाने के अवसर खो देते हैं|
केवल प्राइस एक्शन का आकलन करके और सम्पूर्ण ट्रेंड की पहचान करके आप बहुत कम अवरोधों के साथ एक समान दृष्टिकोण बना सकते हैं| नीचे दिए गए अनुदेश चार्ट कीमतों को समझने में मदद करेंगे और भविष्यवाणी करने की बजाये बाज़ार में चल रही गतिविधियों को ट्रेड पर प्रभाव के कारक के रूप में समझने में भी आपकी मदद करेंगे|

READ  Price Action बाइनरी ऑप्शन्स कार्यनीति