“बाइनरी ऑप्शन्स के आजकल और भी लोकप्रिय होते जाने के कारण, यह स्वाभाविक ही है कि वे ट्रेडर, जो पैसे कमाना चाहते हैं, लगातार उन नई और बेहतर तकनीकों की खोज में लगे रहें जिनसे जोखिम को न्यूनतम रखा जा सकता है और मुनाफे को अधिकतम बढ़ाया जा सकता binary optionsहै।

साधारण हेजिंग विधि से हटकर अधिक उन्नत जोखिम समाधान दृष्टिकोण वाली कई कार्यनीतियाँ प्रतिदिन जन्म ले रही हैं। फिर भी, चाहे वे कितनी ही अलग क्यूँ न हों, एक चीज उन सबको जोड़ती है: विस्तृत बाज़ार विश्लेषण के बिना किसी को भी सफलतापूर्वक क्रियान्वित नहीं किया जा सकता है।

कोई भी इस बात के महत्व को कमतर नहीं कर सकता है कि आप जिस आस्ति में ट्रेड कर रहे हैं उसे अच्छी तरह जान लें। इसकी कीमत को क्या और कैसे प्रभावित करता है यह जानना सफल ट्रेड का आधार है!

यहीं पर बाइनरी ऑप्शन्स आधारभूत विश्लेषण काम आते हैं!

बाइनरी ऑप्शन्स आधारभूत विश्लेषण क्या है?

साधारण शब्दों में, यह उन वास्तविक दुनिया के कारकों का परीक्षण करने की प्रक्रिया है जो उस आस्ति की कीमत को प्रभावित कर सकते हैं।

इनमें बाह्य और आंतरिक दोनो कारक शामिल हैं। ये कारक वैश्विक घटनाओं से लेकर कंपनी की सूचनाओं तक आंकड़ों के कई स्तर हो सकते हैं। इनमें ब्याज दरें, वित्तीय और राजनैतिक नीतियाँ, सभी प्रकार के व्यापक आर्थिक प्रभावों के साथ-साथ पर्यावरणीय प्रभाव शामिल हैं।

आजकल की दुनिया में जब सभी प्रकार की डिवाइसों पर 24/7 इन्टरनेट सुविधा उपलब्ध है, इस प्रकार की सूचनाएँ प्राप्त करना काफी आसान है। फिर भी दुनिया पर की खबरों के संपर्क में रहना कभी भी बहुत आसान नहीं था, कई बार यह पता लगाना मुश्किल होता है कि खबर की घटना किस तरह से आस्ति से जुड़ी है और उसके मूल्य को प्रभावित करती है।

READ  Price Action बाइनरी ऑप्शन्स कार्यनीति

निश्चित ही कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जिनकी बाइनरी ऑप्शन्स आधारभूत विश्लेषण के समय अधिक महत्ता होती है। इनमें शामिल हैं:

प्राकृतिक घटनाएँ

मक्का, कॉफी, सोया या तेल जैसी आस्तियां मौसम की स्थिति और प्राकृतिक आपदाओं से बड़े तौर पर प्रभावित हो सकती हैं।

उदाहरण के लिए, एक जोरदार तूफान मक्के के खेतों को कुछ ही क्षण में साफ कर सकता है। जिस बाज़ार में इसकी आपूर्ति काफी मात्रा में कम हो जाएगी। तब इन आस्तियों की मांग इनकी उपलब्ध आपूर्ति की तुलना में अधिक होती है और इस कारण कीमत बढ़ जाती है!

binary options trading
राजनीति

राजनीति से जुड़ी कई चीजों पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

युद्ध से कीमतों पर प्रभाव पड़ता है।

साथ ही, सरकार बदलने या राजनैतिक बदलाव जैसी घटनाएँ भी महत्वपूर्ण हो सकती हैं, क्योंकि वे सार्वजनिक खर्च, सार्वजनिक उधर या विकास विधि को प्रभावित करते हैं।

आर्थिक आंकड़ें

अलग-अलग आर्थिक घोषणाओं का बाज़ार की दिशा पर तुरंत प्रभाव हो सकता है।

कुछ शोध एजेंसियों या कुछ कंपनियों के द्वारा जारी आंकड़े आस्ति की कीमत में महत्वपूर्ण बदलाव ला सकते हैं। यहाँ तक कि सरकार द्वारा जारी आंकड़ों पर भी नज़र रखिजानी चाहिए।

जीडीपी – सकाल घरेलू उत्पाद, बेरोजगारी दरों और खुदरा बिक्रियों आदि जैसी चीजों के बारे में जानकारी होना बाइनरी ऑप्शन्स की बड़ी दुनिया बहुत मददगार हो सकता है।

ज्ञान हमेशा ही सफलता की कुंजी रहा है और बाइनरी ऑप्शन्स बाज़ार भी कोई अपवाद नहीं है! इसीलिए अक्सर बाइनरी ऑप्शन्स आधारभूत विश्लेषण को सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है।

बाइनरी ऑप्शन्स आधारभूत विश्लेषण एक ऐसी चीज है, जिससे सभीसफल ट्रेडर सहमत होंगे: चाहे आप बाइनरी ऑप्शन्स की दुनिया में नए हों या फिर आप वहाँ लंबे समय से से हों, आप इसे अपनाए बिना पैसे नहीं कमा सकते!”

READ  Olymp Trade में Breakout कार्यनीति का प्रयोग करके मुनाफा कैसे कमाएं