आईक्यू ऑप्शन के साथ शुरुआत करें

आप आईक्यू ऑप्शन के साथ एक ट्रेडर के रूप में जुड़ने के इच्छुक हैं, लेकिन आपको इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

अगर आप इस ऑनलाइन फॉरेक्स ब्रोकर के बारे में निश्चित निर्णय नहीं ले पा रहे हैं, तो आप आईक्यू ऑप्शन की हमारी विस्तृत समीक्षा यहाँ पढ़ें।

मैं भी कभी आपकी ही तरह था और नहीं जानता था कि आईक्यू ऑप्शन से कैसे जुड़ सकते हैं। मेरी जानकारी का एकमात्र जरिया उनकी वेबसाइट पर दिया हुआ ट्यूटोरियल था। उस समय ट्यूटोरियल में बहुत अधिक जानकारी नहीं हुआ करती थी, लेकिन तब से काफी सुधार हुआ है। इस प्लेटफॉर्म पर मैंने अपनी शुरुआत मुख्य रूप से गलतियाँ करने और उनसे सीखते हुए  की और मैंने अपने निवेश का अच्छा खासा हिस्सा खो दिया।

मैं नहीं चाहता कि आप भी उसी प्रक्रिया से गुज़रें जिससे मुझसे गुजरना पड़ा था। इसीलिए मैंने यह विस्तृत गाइड बनाई है। इसे पढ़ें और जब आप इसे पूरा पढ़ लेंगे, मैं शर्त लगा सकता हूँ कि आप इसे किसी व्यावसायिक ट्रेडर की तरह प्रयोग में ला पाएंगे।

शुरू करने से पहले यह नोट करना आवश्यक है कि यह गाइड आपके पीसी के ज़रिए आईक्यू ऑप्शन प्रयोग करने के लिए है। हालांकि आप सीधे अपने ब्राउज़र से ट्रेड कर सकते हैं, ल्रेकिन मैं सुझाव दूँगा कि आप इनकी एप अपने कंप्यूटर पर डाउनलोड कर लें।

एण्ड्रोइड या आईओएस स्मार्टफोन पर आईक्यू ऑप्शन चलाने की विस्तृत जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

[wpaff_table id=”9″]

आईक्यू ऑप्शन की समीक्षा बाइनरी ट्रेडिंग के जोखिम

 

अगर आपको अभी आईक्यू ऑप्शन खाता खुलवाना बाकी है, यहाँ क्लिक करें।  अपनी जानकारी भरिए और आप नीचे दिए गए पेज की तरह ही दिखने वाले पेज पर पहुँच जाएंगे।

READ  आईक्यू ऑप्शन ट्रेडिंग खाते में पैसे कैसे जमा करें और निकालें - अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न IQ Option

इस समीक्षा के लिए डेमो खाता प्रयोग किया गया है। मैं सुझाव दूँगा कि आप अपना धन निवेश करने से पहले अभ्यास के आईक्यू ऑप्शन का डेमो खाता खुलवाएं।

आइए शुरू करते हैं

ट्रेडिंग के लिए एक आस्ति चुनें
 

साधारणतया आस्तियां वे वित्तीय लिखत होते हैं जिन पर आप दांव लगते हैं। वे सूची में जोड़ी में उल्लिखित होते हैं और इनमें स्टॉक, करेंसी, सूचकांक और कमोडिटी शामिल हैं। मैं नए ट्रेडरों को करेंसी जोड़े के साथ शुरुआत करने का सुझाव दूँगा। वे समझने में आसान होते हैं और अन्य विकल्पों की तुलना में अधिक लाभ देते हैं।

मैं उदाहरण के लिए यूरो/ अमेरिकन डॉलर की जोड़ी का प्रयोग करूंगा। आईक्यू ऑप्शन दिखाता है कि अगर मेरी ट्रेड सफल हुई तो मुझे 93% लाभ होगा।

यूरो/ अमेरिकन डॉलर पर क्लिक करें

.बाइनरी ऑप्शन के लिए आईक्यू ऑप्शन आस्तियां स्क्रीनशॉट

IQ option assets setup

एक समाप्ति अवधि चुनें
 

किसी भी ट्रेड में प्रवेश करने से पहले, आपको समाप्ति अवधि अवश्य बतानी होगी। जिसका मतलब है कि आप कितने समय तक उस ट्रेड स्थिति को बरकरार रखना चाहते हैं। समाप्ति अवधि कुछ सेकंड से लेकर कुछ महीनों तक हो सकती है। 

समाप्ति अवधि कैसे निर्धारित करें?
 

ज़्यादातर मामलों में यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी ट्रेडिंग कार्यनीति क्या है और आप किन आस्तियों पर ट्रेड करते हैं। उदाहरण के लिए यूरो/ अमेरिकन डॉलर जैसे करेंसी जोड़े ज़्यादातर स्थिर होते हैं और  मूल्य में बदलाव बहुत कम देखने को मिलता है। इस कारण इनके मूल्य बदलाव का पता लगाना आसान हो जाता है। इस मामले में, मैं आमतौर पर 5 मिनट से 60 मिनट की समाप्ति अवधि चुनूँगा। अगर आप बीटीसी/यूएसडी (बिटकॉइन/अमेरिकन डॉलर) जैसी अतिपरिवर्तनशील आस्ति चुनते हैं, तो मूल्य में बहुत ज़्यादा बदलाव आने की आशंका होगी। मैं बहुत तेजी से ट्रेड में प्रवेश करना और जल्द ही बाहर आना चाहूँगा। इसका मतलब है कि मैं 15 मिनट से कम की समाप्ति अवधि चुनूँगा।

READ  IQ Option में ट्रेंड्स पर आधारित कार्यनीति कैसे अपनाएं

अपने उदाहरण पर वापस आते हुए, मैं 5 मिनट की समाप्ति अवधि चुनूँगा जो आप नीचे दिए गए चित्र में देख सकते हैं।

अपनी निवेश राशि डालें

आईक्यू ऑप्शन में बाइनरी ऑप्शन ट्रेड सेट करना

आपके खाते के यूजर इंटरफेस के सबसे दाहिनी ओर, आपके ट्रेड निवेश की जानकारी डालने की फील्ड है। मैं $400 डालता हूँ। आईक्यू ऑप्शन अपने आप उस राशि की गणना कर लेता है जो कि मैं लाभ में कमाऊँगा अगर मेरी ट्रेड सफल होती है तो। पहले बताए गए 91% का प्रयोग करने पर, मैं अपने निवेश पर $364 कमा सकता हूँ।

ध्यान दें कि अगर मेरी ट्रेड असफल हो जाती है तो मैं अपने $400 खो दूंगा।

अपने पूर्वानुमान पर क्लिक करें (ऊपर या नीचे)

आखिरी पड़ाव में आपको अपने पूर्वानुमान डालने होंगे। आपके पास दो विकल्प हैं। UP (ऊपर), अगर आपको लगता है कि ट्रेड समाप्ति अवधि के समय मूल्य बढ़ जाएगा और DOWN (नीचे) अगर आपको लगता है कि ट्रेड समाप्ति अवधि पर मूल्य कम हो जाएगा। मैं UP चुनूँगा क्योंकि यूरो / अमेरिकन डॉलर की जोड़ी ओवरसोल्ड है और अपनी सामान्य स्थिति में वापस आ रही है जैसा कि आप आरएसआई सूचक में देख सकते हैं।

ट्रेड समाप्ति पर, आपको देख पाएंगे कि आपको फायदा हुआ या नुकसान। ध्यान दें कि अगर आपको लाभ हुआ है, तो आपकी निवेश की गई राशि और उस पर अर्जित लाभ आपका खाते में क्रेडिट हो जाएगा। अगर आपको घाटा हुआ है तो आपकी निवेश की गई राशि काट ली जाएगी।

आईक्यू ऑप्शन की ट्रेड से बाहर आना

उच्च लाभ वाले आईक्यू ऑप्शन

निष्कर्ष

यद्यपि शुरू-शुरू में यह थोड़ा डरावना लगता है, लेकिन बाइनरी ऑप्शन उतना ही आसान है जितना इस गाइड में दिया गया है। लेकिन, एक सफल ट्रेडर बनने के लिए बहुत सी और चीज़ें सीखनी होती है।  जिसमें निवेश करने से पहले जिस आस्ति में आप ट्रेड करना चाहते हैं उसके मूल्य में बदलाव का अध्ययन करना शामिल है। खाते का सही प्रबंधन भी ज़रूरी ताकि कहीं आप अपना सारा धन केवल एक ट्रेड में न खो दें। अंत में, सफल होने के लिए इच्छाशक्ति और अभ्यास की ज़रूरत होती है। इसलिए मैं वास्तविक आईक्यू ऑप्शन ट्रेडिंग खाता खोलने से पहले डेमो खाते का प्रयोग करने की सलाह देता हूँ।

READ  IQ Option FX Options – जानने योग्य समस्त जानकारी

[wpaff_table id=”9″]

आईक्यू ऑप्शन की समीक्षा बाइनरी ट्रेडिंग के जोखिम

Click here to get this post in PDF